चंद्रशेखर सिंह जिलाधिकारी मुजफ्फरपुर जो जनता की समस्याओं के समाधान में ।




  • चंद्रशेखर सिंह को जो लोग भी जानते हैं उन्हें पता है की जन समस्याओं को लेकर हमेशा से वह तत्पर हैं। चंद्रशेखर सिंह को जानने वाले लोग जो बखूबी जानते हैं कि हाजीपुर में अनुमंडल पदाधिकारी होने के बावजूद जब उन्हें नगर पालिका की जिम्मेवारी भी सुपुर्द की गई तो उन्होंने हाजीपुर का कायाकल्प करने में महत्ती भूमिका निभाई थी। वैशाली जिले में लगातार होने वाली सड़क दुर्घटनाएं एवं शहरों में सड़क पर हो रहे अतिक्रमण जाम को लेकर किसी भी प्रकार का जिला प्रशासन का निष्क्रिय होना यह दर्शाता है कि उन्हें जन समस्याओं से कोई मतलब नहीं है। एक बार फिर चंद्रशेखर सिंह ने मुजफ्फरपुर के जिला अधिकारी के रूप में मुजफ्फरपुर शहर को एक सुंदर शहर बनाने का पहला कदम बढ़ा कर अपने स्वाभाविक व्यक्तित्व का परिचय दिया है। बिहार का दूसरा राजधानी कहा जाने वाला मुजफ्फरपुर शहर जो जाम की समस्याओं से लंबे वर्षो से संघर्ष करता रहा है, उसके लिए जिला अधिकारी के द्वारा उठाया गया कदम बहुत ही सराहनीय है। बस देखना यह है कि जिस प्रकार उन्होंने पूरी प्रेस रिलीज जारी कर जानकारी दी है वह धरातल पर किस स्तर पर दिखाई देता है। जिलाधिकारी मुजफ्फरपुर के द्वारा दिया गया प्रेस रिलीज कुछ इस प्रकार हैं । मुजफ्फरपुर जिला मुख्यालय में वाहनों की संख्या में अत्यधिक वृद्धि , व्यापार - व्यवसाय में वृद्धि तथा शहरी जनसंख्या घनत्व में वृद्धि इत्यादि कारणों से यातायात की समस्या देखने को मिल रही है , जिसमें नागरिकों को जाम सहित कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है । इस संदर्भ में पूर्व में निर्गत आदेशों की समीक्षा , दिनांक 25.11.2020 को आयोजित समीक्षात्मक बैठक में विमर्शोपरांत लिये गये निर्णय तथा अनुमंडल पदाधिकारी , पूर्वी , मुजफ्फरपुर / पुलिस उपाधीक्षक , यातायात , मुजफ्फरपुर से प्राप्त प्रस्ताव के आलोक में दिनांक 04.12.2020 के प्रभाव से निम्नांकित व्यवस्था लागू की जाती है ।

  • वन - वे व्यवस्था : निम्नांकित सड़कों पर यातायात वन - वे रहेगा :-

    इमलीचट्टी चौक :-
    1. माडीपुर ओवर ब्रीज से जूरन छपरा ट्रैफिक पोस्ट ' होते हुए समाहर्ता आवास की और । ( जूरन छपरा से इमलीचट्टी चौक की ओर सभी प्रकार के वाहनों का जाना प्रतिबंधित रहेगा । )
    2. महेशबाबू चौक से माडीपुर पुल पर जानेवाले सभी वाहन जूरन छपरा होते हुए समाहर्ता आवास स्थित चौक से दाहिने घूमकर सरकारी बस स्टैण्ड के सामने से होते हुए माडीपुर पुल तक जायेंगे । ( महेशबाबू चौक से इमलीचट्टी चौक की ओर वाहनों का जाना प्रतिबंधित रहेगा । )
    3. टॉवर चौक से जूरन छपरा की ओर जानेवाले सभी वाहन समाहर्ता आवास से बाईं तरफ घूमकर सरकारी बस स्टैण्ड होते हुए इगलीचट्टी चौक की ओर जायेंगे । ( समाहर्ता आवास से जूरन छपरा की ओर कोई वाहन नहीं जाएगा । )
    महात्मा गाँधी टॉवर चौक :-
    1. अखाडाघाट से टॉवर की ओर जाने वाले सभी वाहन टॉवर चौक की ओर न आकर सिकन्दरपुर मोड़ से रानी सती मंदिर , जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम से बायें घूमकर सिकन्दरपुर मन होते हुए करबला चौक की ओर से जायेंगे । अखाडाघार की तरफ से कोई भी ठेला अथवा रिक्शा सीधे सरैयागंज टॉवर चौक की तरफ नहीं जाएगा ।
    2. कंपनीबाग मस्जिद की तरफ से सीधे बैंक रोड होते हुए सूतापट्टी सड़क की ओर किसी वाहन को प्रवेश की अनुमति नहीं होगी । ये सभी वाहन टॉवर होते हुए एलाईट होटल की तरफ से सूतापट्टी सड़क में प्रवेश करेंगे । एलाईट होटल से सभी प्रकार के वाहन सूतापट्टी होते हुए बैंक रोड एवं कम्पनीबाग गस्जिद की ओर जा सकेंगे ।

    कल्याणी चौक :-
    1. कल्याणी चौक से मोतीझील होते हुए धाना चौक की और वाहन जायेंगे । थाना चौक से कल्याणी चौक की ओर कोई भी वाहन नहीं जायेगा । थाना चौक से नवयुवक ट्रस्ट समिति की वाहन केंगे । अपितु जवाहरलाल रोड होते हुए कल्याणी चौक की और सभी वाहन जायेंगे ।



    अघोरिया बाजार चौक :-

    1. रामदयालु नगर की ओर से अधोरिया बाजार चौक की ओर आनेवाले वाहन रामदयालु स्टेशनों कॉलेज - आईटी.आई . होते हुए कलमबाग चौक की ओर जायेंगे । यह रोड वन - ये रहेगा । ( रामदयालु रेलवे स्टेशन चौका से अघोरिया बाजार चौक की ओर कोई वाहन नहीं जायेंगी ।
    नो इन्ट्री व्यवस्था - निम्नांकित स्थान पर प्रातः 09:00 बजे से 10:00 बजे रात्रि तक नो इन्ट्री की व्यवस्था लागू रहेगी
    1. अहियापुर जीरोमाईल की ओर से कोई भी बड़ा वाहन अखाडाघाट की ओर नहीं जायेंगे । अखाडाघाट पुल की ओर से आनेवाले सिर्फ 407 वाहन टॉवर की ओर न जाकर वह कृष्णा टॉकिज पेट्रोल पम्प के सामने की सड़क से गोला रोड की ओर जायेंगे , परन्तु सरैयागंज टॉवर चौक की ओर सीधे नहीं जायेंगे ।
    2. जेल चौक से पश्चिम की ओर कोई भी बड़ी वाहन शहर में प्रवेश नहीं करेंगे । ( i ) गोला रोड पेट्रोल पम्प से सरैयागंज टॉवर की ओर कोई भी मिनी ट्रक एवं बड़ा वाहन नहीं जायेंगे ।
    3. वैरिया गोलम्बर से लक्ष्मी चौक की ओर कोई भी बड़ा वाहन प्रवेश नहीं करेगा ।
    4. रामदयालुनगर स्टेशन चौक से अघोरिया बाजार चौक की ओर कोई भी बड़ा वाहन प्रवेश नहीं करेगा । चूंकि यह वन - वे रहेगा ।
    5. कच्ची - पक्की की ओर से आनेवाले वाहन आर .डी.एस. कॉलेज चौक से अघोरिया बाजार चौक की ओर नहीं जायेंगे । अपितु यह रामदयालु चौक की ओर जायेंगे ।
    6. गोबरसही चौक से परिसदन की और बड़े वाहन प्रवेश नहीं करेंगे ।
    7. लेप्रोसी मिशन की ओर से बड़े वाहन पी.एन.टी. चौक से आगे मिठनपुरा थाना की ओर नहीं जायेंगे ।
    8. नारायणपुर अनंत एवं एन.एच. - 28 की ओर से आनेवाले बड़े वाहन मिठनपुरा चौक से आगे प्रवेश नहीं करेंगे । इनमें से कुछ स्थानों पर नो - इन्ट्री का बोर्ड लगा हुआ है तथा जिन स्थानों पर बोर्ड नहीं लगा हुआ है - वहाँ नगर आयुक्त , मुजफ्फरपुर नगर निगम , मुजफ्फरपुर नो - इन्ट्री का बोर्ड लगाना सुनिश्चित करेंगे । अगले आदेश तक सिटी बस एवं स्कूल बस को नो इन्ट्री जोन से मुक्त रखा जाता है । शादी - विवाह / शवयात्रा एवं आपालकालीन सेवा के लिए बड़े वाहनों के नो - इन्ट्री में प्रवेश हेतु जिला प्रशासन की अनुमति आवश्यक होगी ।
    डिवाईडर्स :-
    1. अखाडाघाट रोड एवं कलमबाग रोड पर डिवाईडर्स की व्यवस्था की जाएगी । नगर आयुक्त , मुजफ्फरपुर नगर निगम , गुजफ्फरपुर इसके लिए आवश्यक कार्रवाई करेंगे । समाहर्ता आवास एवं समाहरणालय के सागने वाली सड़क का डिवाईडर ऊँचा करने की कार्रवाई नगर निगम , मुजफ्फरपुर द्वारा की जाएगी ।
    2. सरैयागज टॉवर के चारों दिशा में , जिसमें पश्चिम में रेमण्ड शो रूम तक , पूरब में गोला रोड तक . उत्तर में सिकन्दरपुर चौक तक तथा दक्षिणी में नवयुवक समिति ट्रस्ट चौक तक । ( M )
    3. अघोरिया बाजार के चारों और 50 मीटर का क्षेत्र सभी प्रकार के निजी वाहनों को लिए ।
    4. काल्याणी चौक के चारों तरफ 50 मीटर की दूरी पर । नगर आयुक्त , नगर निगम , मुजफ्फरपुर इन नो पार्किंग स्थलों पर इस आशय का सूचनापट लगवाएँगे ।






  • नो पार्किंग क्षेत्र में ऑटो एवं अन्य वाहनों के खड़े किये जाने से भी यातायात की समस्या उत्पन्न होती है । नो पार्किंग क्षेत्र में अवैध रूप से खड़े किये गये ऑटो एवं अन्य वाहनों पर नियमानुसार जुर्माना लगाने की कार्रवाई की जाएगी । साथ ही भगवानपुर गोलम्बर , चाँदनी चौक एवं अहियापुर जीरो माईल गोलम्बर के इर्द - गिर्द अवैध रूप से खड़े किये जानेवाले बसों एवं ट्रकों के विरूद्ध भी आवश्यक कार्रवाई की जायेगी । ( अनुपालन - जिला परिवहन पदाधिकारी / अनुमंडल पदाधिकारी , पूर्वी / पुलिस उपाधीक्षक , यातायात , मुजफ्फरपुर )
    1. स्टॉप माकिंग : -शहर के निम्नांकित चौक - चौराहों पर चौराहे से कुछ दूरी पर स्टॉप माकिंग लगाया जाएगा , ताकि वाहन उसी स्टॉप मार्किंग पर ही रुक जाए ( अन्यथा वे सीधे चौराहे तक पहुँच जाते है ) :-
    2. सरैयागंज टावर
    3. इमलीचट्टी चौक
    4. अघोरिया बाजार चौक
    5. कल्याणी चौक
  • नगर आयुक्त कृपया उपरोक्त सड़कों पर लाल रंग की डबल लाईन मार्किंग ( Dauble Red Line Marking ) करवाना सुनिश्चित करेंगे । फल - सब्जी विक्रेताओं के लिए चिन्हित स्थल : मुजफ्फरपुर शहर में प्रमुख सड़कों एवं चौक चौराहों के अतिक्रमण के कारण भी जाम की समस्या उत्पन्न होता है । प्रमुख सड़कों के फ्लैक पर यत्र - तत्र फल - सब्जी की अस्थायी दुकानों के कारण भी अतिक्रमण की समस्या उत्पन्न होती है । निम्नांकित स्थलों को फल - सब्जी विक्रेताओं के लिए पूर्णतः अस्थाई . औपबंधिक एवं तदर्थ रूप से चिन्हित किया जाता है :-
    1. घिरनी पोखर ।
    2. महिला शिल्प कला भवन के पास सड़क के किनारे ।
    3. अखाडाघाट रोड में देना बैंक के सामने ।
  • अतिक्रमण हटाना सड़कों पर आगे बढ़ाकर दुकान लगाना , उसके बाद वाहन की पार्किंग करना , सड़कों के किनारे एवं फूटपाथों पर दुकान / ठेला इत्यादि लगाना भी जाम का एक बड़ा कारण है । नगर आयुक्त , मुजफ्फरपुर द्वारा अनुमंडल पदाधिकारी , पूर्वी , मुजफ्फरपुर एवं पुलिस उपाधीक्षक , पूर्वी के साथ समन्वय स्थापित कर सड़कों के किनारे से अतिक्रमण हटाया जाएगा तथा दुकान के आगे बढ़ाकर सामान रखने एवं वाहन पार्किंग करने वाले दुकानदारों को ऐसा नहीं करने के लिए जागरूक किया जाएगा । इसके बावजूद अनुपालन नहीं करने वालों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी । संबंधित थाना प्रभारी सुनिश्चित करेंगे कि उनके क्षेत्र में हटाये गये अतिक्रमण के बाद पुनः उक्त स्थल पर अतिक्रमण न हो ।





  • नगर आयुक्त , मुजफ्फरपुर एवं पुलिस उपाधीक्षक , मुख्यालय , मुजफ्फरपुर के नेतृत्व में मुजफ्फरपुर शहर एवं समीपवर्ती क्षेत्रों में प्रमुख चौक - चौराहों एवं सड़क से अतिक्रमण हटाने तथा उक्त व्यवस्था की निगरानी हेतु धावा दल का गठन किया जाता है । पुलिस उपाधीक्षक प्रारक्ष , पुलिस लाईन , मुजफ्फरपुर द्वारा धावा दल के साथ अवैध पार्किंग वाले वाहनों को उठाने हेतु क्रेन उपलब्ध कराया जाएगा तथा 12 जवानों की प्रतिनियुक्ति की जाएगी । जिला खनन पदाधिकारी एवं मोटर यान निरीक्षक आवश्यकतानुसार धावादल को सहयोग प्रदान करेंगे । नगर आयुक्त , मुजफ्फरपुर के द्वारा धावा दल के साथ नगर निगम के कर्मियों की प्रतिनियुक्ति भी की जाएगी एवं पर्याप्त संख्या में मजदूर , ट्रैक्टर इत्यादि भी उपलब्ध कराया जाएगा । घावा दल समय - समय पर औचक ढंग से उक्त व्यवस्था का निरीक्षण करेगा तथा उल्लंघन करने वालों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई करेगा । अतिक्रमण से मुक्त कराये गए स्थलों का निरीक्षण करेगें एवं यदि यह पाया जाता है कि उक्त स्थल पर पुनः अतिक्रमण कर लिया गया है तो अतिक्रमणकारी के द्वारा अतिक्रमित स्थल पर रखे गए सामग्रियों को जब्त कर आवश्यक कानूनी कार्रवाई करेंगे । जिलाधिकारी मुजफ्फरपुर के द्वारा जारी की गई विज्ञप्ति में छोटी-छोटी बातों पर भी जिस प्रकार ध्यान दी गई है, अगर वाकई में हुआ धरातल पर उतरता है तो मुजफ्फरपुर शहर के लिए एक ऐतिहासिक कदम होगा। विभिन्न लोगों से मुजफ्फरपुर शहर में जब मेरी बातचीत हुई तो इस कदम को लोगों ने सराहा और उम्मीद यही की यह जो आदेश है व धरातल पर भी दिखे इसी की उम्मीद करते हैं। बिहार में प्रशासनिक अक्षमता ने बिहार के विकास को हमेशा बाधा पहुंचाई है। लेकिन वर्तमान जिलाधिकारी मुजफ्फरपुर के कार्यशैली होने विभिन्न स्तरों पर कुछ नया करने का हमेशा प्रयास किया है। इसलिए जो लोग भी जिला अधिकारी चंद्रशेखर सिंह को जानते हैं वह आशान्वित है कि मुजफ्फरपुर शहर में कुछ अलग देखने को मिलेगा। जन भावना में भी चंद्रशेखर सिंह को लेकर बहुत मजबूत विचार है और लोग उनके कार्य शैली को पसंद करते रहे हैं और उन्हें सहयोग देते रहें। बहुत ही सुगम तरीके से प्राप्त जिलाधिकारियों की सूची में चंद्रशेखर सिंह का नाम हमेशा से अव्वल रहा है। तो इस बार भी जो कदम चंद्रशेखर सिंह द्वारा उठाए गए हैं वह एक आदर्श के रूप में स्थापित हो तभी जिलाधिकारी जैसे महत्वपूर्ण पद की गरिमा बनी रहेगी ।