04-Apr-2018 05:35

धीरज गुप्ता की रिपोर्ट कृषि एवं कल्याण मंत्रालय की अध्यक्षता में हुई बैठक।

तोइंस्टिट्यूशनलडिलीवरी(संस्थागत प्रसव) को बढ़ावा मिल सकता है।

गया में समाहरणालय सभाकक्ष मेंकृषि एवं कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार के अपर सचिव- सह- वित्तीय सलाहकार श्री बी0 प्रधान की अध्यक्षता में एस्पिरेशन डिस्ट्रिक्ट में शामिल गया के तीव्र विकास के लिए किए जा रहे विभागवार कार्यों की समीक्षा की गई,जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह द्वारा संबंधित विभागों द्वारा किए जा रहे कार्यों के संबंध में सचिव महोदय को संक्षिप्त जानकारी दी गयी,उन्होंने बताया कि विगत माहों में स्वास्थ्य एवं कृषि के क्षेत्र में गया जिला ने बहुत अच्छा काम किया हैस्वास्थ्य के क्षेत्र में गया बिहार में प्रथम स्थान तथा कृषि के क्षेत्र में तृतीय स्थान प्राप्त कर चुका है । उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में दूरस्थ क्षेत्रों में प्रसव गृह बनवाया जा सकता है, चिकित्सकों के रहने की व्यवस्था एवं अतिरिक्त एंबुलेंस की सुविधा उपलब्धकराया जा सकता हैअगर ये सुविधा उपलब्ध करायी जाए तोइंस्टिट्यूशनलडिलीवरी(संस्थागत प्रसव) को बढ़ावा मिल सकता है। क्योंकि ऐसे क्षेत्रों में पर्याप्त सुविधा के अभाव में अभी भी लोग स्थानीय दाई के माध्यम से ही प्रसव करा रहे हैंउन्होंने आगे कहा कि पोषण के क्षेत्र में आंगनबाड़ी केंद्र के माध्यम से सभी बच्चों का वजन एवं ऊंचाई मापने की व्यवस्था की गई हैलेकिन अभी भी इस में कहीं कहीं कमियां पाई जा रही है उन्होंने कहा स्वास्थ्य एवं पोषण के क्षेत्र में बेहतर परिणाम छत्तीसगढ़ मॉडल के आधार पर गया के लिए भी योजना बनायी जा सकती हैशिक्षा के क्षेत्र में बताया गया कि अभी भी प्राइमरी स्कूल से अपर प्राइमरी स्कूल में और अपर प्राइमरी स्कूल से उच्च विद्यालयों में विद्यर्थियों के जाने की संख्या में गैप है इस संबंध में सभी विद्यालयों में शौचालय,पेयजल सुविधा एवं बिजली की सुविधा प्रदान कर इस गैप को पाटा जा सकता हैस्किल डेवलपमेंट के संबंध में कुशल युवा कार्यक्रम के तहत कार्य किए जा रहे हैंजिलाधिकारी ने अपर सचिव महोदय को अवगत कराया के गया जिला में पेयजल की गंभीर समस्या हैयहां के लिए एक अलग जलआपूर्ति प्रणाली के संबंध में सोचा जा सकता हैयदि जलआपूर्ति की व्यवस्था पर्याप्त हो जाए तो गया तीव्र गति से विकास करेगा,उन्होंने कहा कि २अक्टूबर२०१८ को गया जिला को पूर्णतः ओडीएफ यानी खुले में शौच मुक्त कर दिया जाएगा,वर्तमान माह में शौचालय निर्माण में तीब्र गति से काम किया जा रहा हैउन्होंने काहा की गया पटना - डोभी राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर अवस्थित हैबोधगया की वजह से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इसकी पहचान हैसाथ ही यहां विष्णुपद मंदिर हैइन स्थलों का विकास हृदय योजना के तहत किया जा रहा हैलेकिन इसके विकास के और बड़ी योजना कीआवश्यकता हैगया शहर को यदि स्मार्ट सिटी में शामिल कर लिया जाए तो निश्चित रुप से इसका तीव्र विकास होगा और उन्होंने कहा कि हरेक प्रखंड में एक मॉडल स्कूल बनाया जा सकता है इस पर कार्य किया जा रहा है शिक्षा का अधिकार अधिनियम के तहत वर्तमान वर्ष में दूरस्थ क्षेत्र के विद्यालयों में भी २५% सीट पर वहां के कमजोर एवं अभिवंचित वर्ग के बच्चों का नामांकन कराय जा रहा हैअपर सचिव महोदय ने कहा कि वे कृषि विभाग से जुड़े हुए हैं इसलिए कृषि के विकास के संबंध में उन्होंने सुझाव मांगाऔर जिला कृषि पदाधिकारी को उन्होंने कहा कि इस संबंध में लिखित में सुझाव दे सकते हैंअन्य पदाधिकारियों से भी उन्होंने अपने कार्य अनुभव के आधार पर उनके क्षेत्र में चलाई जा रही योजना में और क्या सुधार किया जा सकता हैइस संबंध में सुझाव देने का निर्देश दिया,सभी संबंधित पदाधिकारियों ने अपने-अपने विभाग के संबंध में चलाई जा रही योजनाओं से संबंधित फीडबैक दिया,अपर सचिव महोदय ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि जिस तरह चुनाव के दौरान हम काम करते हैं उन्होंने कहा कि एस्पिरेशन डिस्ट्रिक्ट में देश के ११५ जिले का चयन किया गया है,उन्होंने पदाधिकारियों का हौसला अफजाई करते हुए कहा कि यदि हमारा इरादा पक्का होगा तो हमें निश्चित रूप से सफलता मिलेगी, हमारा इरादा होना चाहिए कि हम नंबर एक पर रहैं और यह हम प्रयास करेंगे तभी हो सकता है उन्होंने पदाधिकारियों को कहा कि वह जमीनी स्तर पर काम करते हैंयह आंकड़ा केवल एक कागज नहीं बल्कि इसमें किसी गरीब का चेहरा भी छिपा रहता हैउन्होंने कहा कि आप पब्लिक सर्विस में है आपको जन सेवा करने का सुनहरा अवसर मिला है जो कम लोगों को मिलता है प्रतिदिन आपको नई चुनौती मिलती हैआपको चुनौती स्वीकार करते हुए उसका निष्पादन करना चाहिए,उन्होंने आगे कहा कि आपको ऐसा काम करना चाहिए कि जनता आपको याद करे,जब हम रात में सोने जाएं तो हमें पक्की नींद आए यह सोचकर कि हमने अपना कर्तव्य का निष्पादन कर दिया हैउन्होंने कहा कि हम यही चाहेंगे कि गया जिला नंबर एक स्थान पर रहे,बैठक में उप विकास आयुक्त श्री राघवेंद्र सिंह,भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षु पदाधिकारी श्री ऋचि पांडेय,अपर समहर्ता श्री राजकुमार सिन्हा, सिविल सर्जन श्री राजेंद्र सिन्हा एवं अन्य संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे।

04-Apr-2018 05:35

राजनीति मुख्य खबरें

समाचार भारत_दर्शन राजनीति खेल जुर्म शिक्षा चिकित्सा धर्म परम्परा व्यक्तित्व कला सम्मान फिल्म सामाजिक_संस्थान रोजगार कानून अर्थव्यवस्था समस्या पर्यावरण सैनिक पुलिस गांव शहर ज्योतिष सामान्य_प्रशासन जन_संपर्क छात्र_छात्रा
Copy Right 2020-2025 Ahaan News Pvt. Ltd. || Presented By : CodeLover Technology