02-Nov-2018 09:27

जिला पार्षद मेनका रमन महाराजगंज लोकसभा क्षेत्र से सशक्त उम्मीदवार

महाराजगंज की जनता के मान और सम्मान के लिए 37 लकड़ी नबीगंज सिवान की जिला पार्षद मेनका रमन 19 महाराजगंज लोकसभा क्षेत्र से लड़ेगी चुनाव

पहली बार जिला पार्षद का चुनाव लड़कर मेनका रमन ने अपने चीर प्रतिद्वंदी राजद के प्रखंड अध्यक्ष समुल्लाह सिदिकी को रिकॉर्ड मतों से पराजित कर 37 लकड़ी नबीगंज सिवान की जिला पार्षद बनि और साथ ही जिला पार्षद अध्यक्ष का चुनाव लड़कर महाराजगंज अनुमंडल की एक मात्र महिला प्रत्याशी बनकर अनुमंडल के मान सम्मान को बढ़ाने का काम किया था।अपने क्षेत्र के विकाश और लोगो के समस्याओं के प्रति हमेशा प्रयत्नशील रहने वाली एक शशक्त महिला जन प्रतिनिधि के रूप में उभरकर अपने अनुमंडल के साथ साथ पूरे बिहार में अपने काम करने की क्षमता और अपने प्रखर वाणी से पूरे प्रदेश में अपना प्रमुख स्थान बना चुकी है।

उनके कार्य शैली को देखकर महाराजगंज लोकसभा की जनता के बीच उनको लोकसभा का चुनाव लड़ने की बात उठने लगी है। मेनका रमन ने आहान न्यूज़ चैनल द्वारा पूछे गए सवालों का जबाब देते हुए कहा कि जनता हमारे लिए भगवान के सामान है मैं जानता की भावनाओं का कद्र और सम्मान करती हूं। अगर मुझे जनता की समस्याओ को लेकर और अपने क्षेत्र के साथ साथ अनुमंडल के मान सम्मान के लिए उन्हें लोकसभा की लड़ाई भी लड़नी पड़े तो वो पीछे नही हटेगी।

यहाँ न्यूज़ द्वारा पूछे गए गये सवाल किस पार्टी से चुनाव लड़ना पसंद करेंगी इन सवालों का जबाब देते हुए श्रीमती रमन ने कहा कि मैं अपने काम पे ध्यान देती हूं और लोकतंत्र में जनता ही मालिक होती है ,जनता से ही पार्टीयां है न की पार्टीयों से जनता और मैं जनता के समस्याओं के लिए लड़ना चाहती हुँँ।

क्योंकि जनता की भावनाओ का सम्मान करना मेरा फ़र्ज़ है,पार्टी तो बड़े नाम और पैसे वालों को टिकट देती है ।और मेरे पास पैसे नहीं मगर लोगो का प्यार और साथ है, जिसके साथ जनता का प्यार और साथ रहता है उससे किसी पार्टी की जरूरत नहीं ये पार्टीयों को सोचने की जरूरत है की वो किसे अपना उम्मीदवार बनाएंगे।महाराजगंज लोकसभा क्षेत्र से पहले भी महिलाओं ने नेतृत्व किया है ।काफी वर्षो से महिलाओं को नजर अंदाज़ किया गया है ।मैं अपने क्षेत्र की जनता का सम्मान करति हु और मुझे भले कोई पार्टी टिकट दे या न दे लेकिन अगर मुझे अपने क्षेत्र के जनता के मान सम्मान और अधिकार के लिए निर्दलीय भी चुनाव क्यों न लड़ना पड़े मैं चुनाव लड़ूंगी।आज के ज़माने में महिलाये सिर्फ वोट देने के लिए नहीं है ,उनको उचित मौका मिले तो हर क्षेत्र की दशा और दिशा भी बदलना जानती है।

02-Nov-2018 09:27

राजनीति मुख्य खबरें

समाचार भारत_दर्शन राजनीति खेल जुर्म शिक्षा चिकित्सा धर्म परम्परा व्यक्तित्व कला सम्मान फिल्म सामाजिक_संस्थान रोजगार कानून अर्थव्यवस्था समस्या पर्यावरण सैनिक पुलिस गांव शहर ज्योतिष सामान्य_प्रशासन जन_संपर्क छात्र_छात्रा
Copy Right 2020-2025 Ahaan News Pvt. Ltd. || Presented By : CodeLover Technology