30-May-2018 09:35

आरा (भोजपुर) युवा राजद नेताओं में आक्रोश: कुंदन सिंह

राजद नेता कुंदन सिंह ने कहा है कि केंद्र सरकार द्वारा पिछले एक वर्ष में डीजल- पेट्रोल के मूल्य में अत्यधिक वृद्धि, महंगाई, बेरोजगारी, किसानों की आत्महत्या, पूरे देश में दलितों पर हो रहे अत्याचार, बलात्कार एवं हत्या की घटना के विरोध में बिहार प्रदेश के

देश में गरीबों का क्या हालत है.मोदी जी को क्या पता जब हर दिन विदेश भ्रमण पर ही रहना है. राजद नेता कुंदन सिंह ने कहा प्रधानमंत्री जी को सभी देशवासियों के बीच में बताना चाहिए कि 2014 से कितने देशों का भ्रमण किए और जिस देश में भ्रमण किए उस देश से भारत में कितनी कंपनियां या उद्योग-धंधे आप लाए हैं. राजद नेता ने यह भी कहा कि मोदी जी आपने विदेशों के भ्रमण में देश की जनता का कितना पैसा खर्च किए वह भी जनता के बीच में आपको बताना चाहिए. वहीं राजद नेता ने आरोप लगाया कि देश का सारा सिस्टम सामंतवादी और नरेंद्र मोदी के दबाव में काम कर रहा है. 2019 के लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी जी की पराजय निश्चित है. पूरे देश में जो पेट्रोलियम पदार्थ की स्थिति है उससे भारत के प्रधानमंत्री अनभिज्ञ हैं. राजद नेता ने यह भी कहा की जब मनमोहन सिंह जी के कार्यकाल में पेट्रोलियम पदार्थ के मूल्य में वृद्धि हुई थी जिस वक्त नरेंद्र मोदी जी गुजरात के मुख्यमंत्री थे उस वक्त नरेंद्र मोदी जी ने अपने सभा में पेट्रोलियम पदार्थ की महंगाई को लेकर काफी आपत्ति जताई थी. मोदी जी ने कहा था - हमारे देश में जिस प्रकार से पेट्रोल का दाम बढ़ा दिया गया है. यह दिल्ली सरकार की शासन चलाने की नाकामयाबी का जीता जागता सबूत है. देश की जनता के अंदर भारी आक्रोश है और इसके साथ और भी चीजों पर बहुत बड़ा बोझ होने वाला है सरकार पर भी बहुत बड़ा होने वाला है मैं आशा करूंगा कि प्रधानमंत्री जी देश की स्थिति को गंभीरता से लें और पेट्रोल के दाम बढ़ाए हैं उसको वापस करें.) मोदी जी मैं आपको यह अवगत कराना चाहता हूं कि आपके द्वारा कही हुई यह सब बातें तो आपके ऊपर खुद लागू नहीं होता है क्या. मोदी जी आप तो मनमोहन सिंह जी को सरकार चलाने में नाकामयाबी बता रहे थे और आज तो पूरे देश की जनता में जो आक्रोश है इस आक्रोश से साफ जाहिर होता है की मोदी जी आप खुद सरकार चलाने में नाकामयाब है. सबसे बड़ा जीता जागता सबूत आपके लिए यह है कि देश की महंगाई चरम सीमा पर है. किसान परेशान है. और पेट्रोलियम पदार्थ की महंगाई दर पर दर बढ़ाए जा रहे हैं.

राजद नेता कहां अभी भारत के प्रधानमंत्री जी पेट्रोलियम पदार्थ की स्थिति से अनभिज्ञ हैं जो कि हमारे पड़ोसी देशों में पेट्रोलियम पदार्थ के दाम में इतनी बड़ी वृद्धि नहीं है श्रीलंका में 59/- रुपए प्रति लीटर पाकिस्तान में51/- रुपए और नेपाल में68/- रुपए प्रति लीटर है. जबकि भारत (बिहार) में 83/- से 87/- रुपए प्रति लीटर और डीजल ₹72 प्रति लीटर बेचा जा रहा है इससे स्पष्ट होता है कि प्रधानमंत्री के इशारे पर पेट्रोलियम कंपनी को लाभ पहुंचाया जा रहा है जो कि अगले लोकसभा चुनाव में पेट्रोलियम कंपनी के द्वारा चुनाव प्रचार के लिए मोटा माल (रकम) बीजेपी को मिल सके.

राजद नेता ने कहा की बिहार के मुखिया सुशासन बाबू (पलटू राम )को बताना चाहता हूं कि जहां भी सभा करने जा रहे हैं. इस तरह के नारेबाजी और विरोधी प्रदर्शन क्यों हो रहे हैं. नीतीश जी को दलित, पिछड़ा, किसान विरोधी बताया और नीतीश कुमार जी को आरोप लगाया और कहा कि आप मोहन भागवत जी को बार-बार क्यों बुला रहे हैं जो इंसान आरक्षण को खत्म करने की साजिश रच रहा है जबकि यह लालू प्रसाद यादव जी के जीवित होते हुए संभव नहीं है.

राजद नेता ने यह भी कहा की नितीश कुमार जी आपके कथनी और करनी में क्या अंतर है यह बिजली की हालत को देखते हुए जनता को खुद समझ में आ गया है वहीं डीजल पेट्रोल की वृद्धि को देखते हुए किसानों का भरोसा टूट चुका है और मैं यहा दावा के साथ नितीश कुमार जी (पलटू राम) और नरेंद्र मोदी जी (फेकू) को बताना चाहूंगा कि बिहार में आने वाले विधानसभा चुनाव में राजद की सरकार निश्चित है.

30-May-2018 09:35

राजनीति मुख्य खबरें

समाचार भारत_दर्शन राजनीति खेल जुर्म शिक्षा चिकित्सा धर्म परम्परा व्यक्तित्व कला सम्मान फिल्म सामाजिक_संस्थान रोजगार कानून अर्थव्यवस्था समस्या पर्यावरण सैनिक पुलिस गांव शहर ज्योतिष सामान्य_प्रशासन जन_संपर्क छात्र_छात्रा
Copy Right 2020-2025 Ahaan News Pvt. Ltd. || Presented By : CodeLover Technology